February 26, 2024

Poem: Aalu Kachalu Beta Kahan Gaye The Lyrics

“Aalu Kachalu Beta Kahan Gaye The Lyrics” ये कविता एक बहुत ही प्रसिद्ध बालगीत है। ये बच्चो को बहुत पसंद आती है क्योकि इसमें आलू बैंगन लड्डू मम्मी पापा आदि इन सबकी बाते आती है और बच्चे इन सभी से बहुत प्रेम करते है।

Aalu Kachalu Beta Kahan Gaye The Lyrics In Hindi

पहले ये कविता की वीडियो देखे बच्चो को बहुत पसंद आएगी और फिर आप पोयम के लिरिक्स पढ़ लें। इस कविता में आलू, कचालू, बैंगन जैसी सब्जियों का इस्तेमाल किया गया है वो भी बहुत खूबसूरती के साथ जो छोटे बच्चो को अच्छी लगे। आप भी इसे सुने और फिर पढ़कर आनंद लें।

आलू कचालू बेटा कहाँ गए थे

आलू कचालू बेटा कहाँ गए थे

आलू कचालू बेटा कहाँ गए थे,
बैंगन की टोकरी में सो रहे थे,
बैंगन ने लात मारी रो रहे थे,
मम्मी ने प्यार किया हंस रहे थे,
पापा ने पैसे दिए नाच रहे थे,
भैय्या ने लड्डू दिए खा रहे थे।

See also  Poem : Chanda Mama Door Ke Lyrics Hindi English

यह कविता भी पढ़े : देखो कालू मदारी आया

Aalu Kachalu Beta Kahan Gaye The Lyrics In English

अब हम आपको इसके लिरिक्स इंग्लिश में दे रहे है जो इन्हे पढ़ना चाहे वो इसे पढ़ सकते है।

Aalu Kachalu Beta Kahan Gaye The,
Baingan ki tokri mein so rahe the,

Baingan ne laat mari ro rahe the,
Mammy ne pyar kiya, hans rahe the,

यह तितली की कविता भी पढ़े : तितली रानी बड़ी सायानी

Papa ne paise diye, naach rahe the,
Bhaiyya ne laddoo diye, kha rahe the .

तो बच्चो का ये बालगीत समाप्त हुआ। हम आशा करते है आपको ये पसंद आया होगा।
धन्यवाद !