March 5, 2024
इमली की तासीर

इमली(Tamarind) की तासीर कैसी होती है ?

इमली को अंग्रेजी में Tamarind कहते है और इसका साइंटिफिक नाम Tamarindus Indica है। आमतौर पर लोग इसे खटाई (चटनी) के रूप में ज्यादा खाते है। चलिए अब इसके बारे में और जान लेते है।

इमली की तासीर कैसी होती है ?

इमली की तासीर ठंडी होती है और इसे खाने से शरीर में ठंडक पहुँचती है।यह गर्मियों में खाया जाने वाला फल है और इसके अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन A, विटामिन B, विटामिन C, विटामिन E ,विटामिन K, पोटेशियम, कॉपर, मैग्निशियम, फॉस्फोरस, सोडियम, कैलशियम आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे लिए बहुत ही उपयोगी है।

कौन सी बीमारियों में इमली खाने के लाभ होते है ?

इमली का उपयोग अगर औषधि के रूप में किया जाता है तो यह बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकती है किन्तु अगर आप सिर्फ स्वाद के लिए इसका ज्यादा प्रयोग करते है तो आपके लिए यह हानिकारक साबित हो सकती है इसीलिए इसे कम मात्रा में खाये।

See also  जामुन की तासीर जाने कैसी ठंडी या गरम (Jamun Ki Taseer Kaisi Hoti Hai)

अधिक मात्रा में खाने से रक्तस्त्राव बढ़ सकता है। इसके अधिक सेवन से रक्त में एस्ट्रोजन की मात्रा बढ़ जाती है जिसके कारण ब्लीडिंग ज्यादा हो सकती है। इसीलिए स्त्रियाँ भी इसका संतुलित रूप में ही उपयोग करें।

यह भी पढ़े :

अगर आपको आम खाने का शौक है तो आम के फायदे और नुकसान के बारे में अच्छे से जाने

पके आम की तासीर क्या होती है ?

धनिया पानी पीने के फायदे क्या होते है ?

Q. क्या इमली को प्रतिदिन खा सकते है ?

Ans. इमली को नियमित तौर पर ज्यादा नहीं खाना चाहिए नहीं तो आपको अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसको ज्यादा खाने से नुकसान होता है।