February 26, 2024
Kele ki taseer kaisi hoti hai | kela khane ke fayde | kela khane ke nuksan | kele ke aushadhiya gun

केले(Banana) की तासीर कैसी होती है | केला खाने के फायदे, नुकसान और औषधीय गुण ?

तो चलिए जानते है की केले की तासीर कैसी होती है या क्या होती है –

केले की तासीर ठंडी होती है और यही कारण है की इसे गर्मियों में ज्यादा खाते है। इसको संस्कृत में कदली कहते है।

ठण्ड से होने वाली बीमारियों में जैसे – जुकाम, गला दुखना, आदि में इसे नहीं खाना चाहिए। यदि आप इन बीमारियों में इसका सेवन करते है तो बीमारी और ज्यादा बढ़ने की संभावना रहती है। और मधुमेह(शुगर) में भी केले को बिलकुल नहीं खाये इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।

केले की तासीर कैसी होती है
Banana Ki Taseer

केला बच्चे और बड़े सभी शौक से खाते है लेकिन क्या आप जानते है यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है और शरीर के लिए ऊर्जा का भी यह एक उत्तम स्तोत्र है। इसमें विटामिन, प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट, फाइबर और मिनरल्स अच्छी मात्रा में पाए जाते है।

See also  फूल गोभी, पत्ता/बंद गोभी और ब्रोकली की तासीर कैसी होती है ?

ज्यादा केले खाने वाले जान लें केला खाने के फायदे और नुकसान और औषधीय गुण ?

केला खाने के फायदे और नुकसान और केले के औषधीय गुण आप इस वीडियो में देख सकते है।

(Banana) Kele Ki Taseer Kaisi Hoti Hai और ?

केला खाने के फायदे

इस खाने से ह्रदय के रोगो में फायदा होता है, हड्डियाँ मजबूत होती है, पाचन तंत्र के लिए भी अच्छा होता है।

नकसीर में अर्थात नाक से खून निकलने पर इसके खाने से लाभ होता है।

पके हुए केले को दही में मिलाकर खाने से दस्त की बीमारी में फायदा होता है।

सांसों की बीमारी में भी इसके सेवन से बहुत फायदा होता है। इस रोग में भुना हुआ केला खाना चाहिये।

Banana Benefits
Kela Khane Ke Fayde

केला खाने के नुकसान

ज्यादा केले खाने से आपको पेट में कब्ज जैसी समस्या हो सकती है।

ये फल ज्यादा खाने से आपको भूख कम लग सकती है।

Kela Khane Ke Nuksan
Kela Khane Ke Nuksan

केले के औषधीय गुण

इसमें अनेको औषधि गुण पाये जाते है जैसे –

See also  खाने से पहले आम खाने के नुकसान अच्छे से जान लें
Kela Khane Ke Aushadhiya Gun
Kela Khane Ke Aushadhiya Gun

पके केला के औषधीय गुण

केला कषाय, मधुर, शीत, गुरु, कफवर्धक होता है।

यह वातशामक, रुचिकारक, वृष्य, शुक्रल होता है।

यह दीपन, सन्तर्पण, ग्राही, संग्राही, बलकारक, स्निग्ध और तृप्तिदायक होता है।

कच्चा केला के औषधीय गुण

यह कच्चा फल मधुर, कषाय, शीतल; गुरु, स्निग्ध, बलकारक, देर से पचने वाला होता है।

यह कच्चा कदली फल क्षय शामक और वात पित्तशामक होता है।

ये हमने आपको इसकी सिर्फ सामान्य जानकारी दी है अगर आप स्वस्थ नहीं है तो आप चिकित्सक के निर्देशानुसार ही इनका सेवन करें।

तो आपने जाना केले की तासीर कैसी होती है, केला खाने के फायदे, केला खाने के नुकसान और केले के औषधीय गुण के बारे में। हम आशा करते है की आपको ये लेख पसंद आया होगा।

See also  जामुन की तासीर जाने कैसी ठंडी या गरम (Jamun Ki Taseer Kaisi Hoti Hai)

धन्यवाद !

  • Microsoft Bing is a Browser or Not

    Lets know the answer of this question Microsoft Bing is a Browser or Not. So, without wasting time lets start reading… Is Microsoft Bing a … Read more

  • Emu Bird : एमू का अद्भुत अंडा – एक परिवार का हो सकता है नास्ता

    एमू का अद्भुत अंडा इतना बड़ा की पूरे परिवार का हो जाए नास्ता दुनिया भर के लोग अंडे को अपने आहार का एक अहम हिस्सा … Read more

  • रिया चक्रवर्ती ज़ेरोधा के सह-संस्थापक निखिल कामथ को कर रहीं है डेट

    Rhea Chakraborty और Zerodha के Co-Founder Nitin Kamath की Dating रिया चक्रवर्ती ज़ेरोधा के सह-संस्थापक निखिल कामथ को कर रहीं है डेट हालिया रिपोर्टों से … Read more